अनिश्चितकालीन हड़ताल में, ग्रामीण, मैदान में उतरे कपड़ा उतार कर

संवाददाता ओमप्रकाश उसेण्डी

नारायणपुर – नारायणपुर जिला में सम्मिलित होने की मांग को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल का 5वॉ दिन है। और हड़ताल 8 तारीख से लगातार जारी है । ग्रामीण अपनी मांगों को लेकर डटे हुए हैं। आज अनिश्चितकालीन हड़ताल का पांचवा दिन है जोकि हड़ताल 58 गांव के बुजुर्ग, जवान, महिलाएं, बच्चे, सभी शामिल थे। ग्रामीणों का कहना है की उनकी मांग 2007 जब नारायणपुर जिला बना उस समय से ग्रामीणों की मांग है की वह अपनी मर्जी से नारायणपुर में सम्मिलित होना चाहते हैं इसके लिए कई बार विधायक, कलेक्टर, व आलाधिकारियों को ज्ञापन भी सौंपा गया। परंतु कुछ षड्यंत्र या कुछ राजनीतिक षड्यंत्र के कारण अभी तक मांगे पूरी नहीं हुई है। अभी वर्तमान में वही एक ओर ताड़ोकी, बोन्दानार व अन्य ग्रामीण इलाकों से अंतागढ़ को जिला बनाने की मांग जोरो से चल रहा है। वहीं दूसरी ओर भानूप्रतापपुर को भी जिला बनाने की मांग जोरो से चल रहा है। ऐसे हालात में अब देखना यह है कि, सरकार किनकी मांग सुनेगी, वर्तमान में अंतागढ़ और भानूप्रतापपुर को जिला बनाने की मांग पर, या कोलर एरिया के ग्रामीण 2007 से लगातार नारायणपुर में सम्मिलित होने की मांग कर रहे हैं, इस मांग पर सुनेगी। कोलर एरिया के 58 गांव के ग्रामीणों का कहना है कि चाहे अंतागढ़ जिला बने या फिर भानूप्रतापपुर इससे हमको कोई लेना देना नही है, और हम लोगों की इस पर कोई समर्थन नहीं है। हमारा मकसद सिर्फ और सिर्फ यही मांग है कि हमको नारायणपुर जिला में सम्मिलित होना है। वही आज ग्रामीण, हमारी मांगे पूरी करो का नारा लगाते हुए, सभी जवान, बुजुर्ग टीशर्ट-शर्ट उतार कर धरना में बैठे हुए थे। अब यह देखना है कि सरकार ग्रामीणों की मांग उनकी अधिकार को कब तक पूर्ण करती है l

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!