अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के 129 दिन बाद हटी सरपंच

जिले के अंतर्गत किसी भी ग्राम पंचायत में अविश्वास प्रस्ताव का पहला मामला

नारायणपुर – जनपद पंचायत नारायणपुर के अंतर्गत ग्राम पंचायत धौड़ाई में आज सरपंच के खिलाफ पंचों द्वारा पारित अविश्वास प्रस्ताव में मतदान के पश्चात सरपंच को हटा दिया गया है। ग्राम पंचायत के 14 पंचों में से 12 पंचों ने महिला सरपंच गोमती देहारी के खिलाफ मतदान किया। ज्ञात हो कि 16 अप्रैल 2021 को ग्राम पंचायत धौड़ाई के सरपंच के विरुद्ध पंचों ने अविश्वास प्रस्ताव पारित कर अनुविभागीय अधिकारी(रा.) के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किया था, परंतु कोरोना की दूसरी लहर के कारण जिले में धारा 144 लागू थी। जिसके चलते प्रस्ताव पारित होने के 129 दिन बाद अविश्वास प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए 23 अगस्त 2021 को पूर्वान्ह 11 बजे ग्राम पंचायत धौड़ाई के सभा कक्ष में छत्तीसगढ़ पंचायत राज अधिनियम 1993 की धारा 21 एवं छत्तीसगढ़ पंचायत( ग्राम पंचायत के सरपंच तथा उप सरपंच के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव) नियम 1994 के तहत बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें पीठासीन अधिकारी के रूप में श्री सुनील कुमार सोनपिपरे तहसीलदार नारायणपुर उपस्थित थे। अगले सरपंच के चुने जाने तक पंचों में से ही किसी पंच को सरपंच नियुक्त किया जाएगा। मतदान के दौरान ग्राम पंचायत के पंचों में सरपंच की कार्यशैली को लेकर काफी असंतोष एवं नाराजगी देखने को मिल रही थी। अविश्वास प्रस्ताव के द्वारा सरपंच के हटते ही पूरे जिले के ग्राम पंचायतों में हड़कंप मच गया है।

सरपंच संघ के हस्तक्षेप के बाद भी नहीं सुलझा मसला

सरपंच संघ के जिलाध्यक्ष बिसेल नाग इस मामले को लेकर काफी गंभीर थे। उन्होंने सरपंच और पंचों के बीच मतभेद को सुलझाने का पूरा प्रयास किया, परंतु ग्राम पंचायत धौड़ाई के पंच और सरपंच के बीच के मसले को सुलझाने में वो असफल रहे।


संवाददाता :-ओमप्रकाश उसेण्डी

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!