कांकेर ,अंतागढ़ ब्लाक में हजारो की तादाद में 121 गाँव के ग्रामीणों ने रैली निकाल कर प्रदर्शन किया ,

संवाददाता ओमप्रकाश उसेंडी

कांकेर जिले अंतागढ़ ब्लाक में आज हजारो की तादाद में 121 गाँव के ग्रामीणों ने रैली निकाल क्र प्रदर्शन किया , ग्रामीणों ने अंतागढ़ के कल गाँव से लेकर अंतागढ़ के ब्लाक मुख्यालय तक रैली निकाली ,ग्रामीणों की मांग थी की उन्हें कांकेर जिले अलग करके अब नारायणपुर जिले में शामिल किया जाए .कांकेर जिले के अंतिम छोर में बसे होने के चलते उन्हें मुलभुत सुविधाओं का लाभ उन्हें नहीं मिल पाता है , ग्रामीणों को काम पढने पर सौ से देढ़ सौ किलोमीटर का सफर उन्हें तय कर कांकेर जिले में जाना पढता है जबकि नारायणपुर जिले की उनकी दुरी मात्र तीस से पैतीस किलोमीटर की पढ़ जाती है , वही आपातकालीन स्थिति में भी उन्हें नारायणपुर जिला ही पास पढता है वही ग्रामीणों का कहना है की विगत कई सालो से उनकी मांग नारायणपुर जिले में सम्मिलित करने की है लेकिन रावघाट परियोजना नारायणपुर जिले की सीमावर्ती इलाके में होने के चलते प्रशासन उनकी मांगो पर ध्यान नहीं देता है, जिसके चलते वे आज हजारो की तादात में अंतागढ़ ब्लाक में आज प्रदर्शन कर रहे है ,ग्रामीणों ने अंतागढ़ विधायक,और यंहा के अनुविभागीय अधिकारी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन भीं सौपा है और 15 दिनों का अल्टीमेटम सौपा है ,अगर इनकी मांगे पूरी नहीं होती है तो वे आगामी दिनों में अन्तागढ़ और नारायणपुर मुख्यमार्ग पर चक्काजाम करेंगे |

नारायणपुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में रावघाट लौह अयस्क खदान होने के चलते जिलो के परिसीमन में रावघाट को रावघाट इलाके को कांकेर जिले में शामिल कर दिया गया वही जिसके चलते यंहा के बसे सौ से अधिक गाँवों की दुरी कांकेर जिला मुख्यालय से 100 से अधिक किलोमीटर की हो गई है जबकि नारायणपुर जिला मुख्यालय से गाँवों की दुरी २० से २५ किलोमीटर की है , यंहा बसे गाँवों के कोइलिबेड़ा ,कोलर ,किस्कोड़ो और बअंडापाल के जनप्रतिनिधि अब अपने क्षेत्र की परेशानियों को दूर करने नारायणपुर जिले में शामिल होना चाहते है ,वही अंतागढ़ विधायक अनूप नाग नी ग्रामीणों के प्रदर्शन को लेकर इसके पीछे राजनैतिक षड्यंत्र बता दिया ,और अंतागढ़ ब्लाक को ही जिला बनाने की बात कही है , वही ग्रामीणों का कहना है की उन्हें रावघाट परियोजना से कोई मतलब नहीं है ,उन्हें उनके पास के जिले नारायणपुर में किसी तरह शामिल किया जाए नहीं तो वे नारायणपुर अंतागढ़ मार्ग में अनिशिचित कालीन चक्का जाम व् धरना प्रदर्शन करेंगे इस पुरे मामले पर नारायणपुर जिले प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने संज्ञान में आने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश से चर्चा करना बताया है |

ये भी पढ़ें-

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!