गिरफ्तार नक्सलियों को अब बता रहे समर्पित निशानदेही पर विस्फोटक और नगदी बरामद

कवर्धा जिले में  मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के सरहदी इलाके में डीआरजी और जिला पुलिस ने बीते महीने दो इनामी नक्सली को गिरफ्तार किया था. इन दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने 10 लाख कैश और कुकर बम समेत कई दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद किया है. हालांकि अब पुलिस इन्हें आत्मसमर्पित बता रही है।

कवर्धा जिले के डीआरजी पुलिस को मई महीने में छत्तीसगढ़ सीमावर्ती इलाके में नक्सलियों के आने की सूचना मिली थी. मामले को गंभीरता से लेते हुए डीआरजी और पुलिस की संयुक्त टीम ने जिले के बीहड़ जंगल में घेराबंदी कर दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया था. जिसमें एक महिला नक्सली शामिल है. चूँकि दोनों नक्सली कोरोना से संक्रमित मिले थे, इसलिए उनका कोविड हॉस्पिटल में इलाज कराया गया. कवर्धा एसपी शलभ सिन्हा मिडिया को बताते हैं कि सर्चिंग के दौरान हमने दोनों को “गिरफ्तार किया था”। कोरोना से ठीक होने के बाद दोनों ने शासन की योजना के तहत आत्मसमर्पण करने की इच्छा जताई। दोनों ने दूसरे बड़े नक्सलियों के संबंध में अनेक जानकारियां दीं और इन्हीं की निशानदेही में भोरमदेव अभ्यारण के जंगल से भारी मात्रा में विस्फोटक और नगदी रकम बरामद किया गया। नक्सली किसी बड़े हमले के फिराक में थे. जिसे पुलिस ने नाकाम कर दिया. इन सब को देखते हुए इनसे आत्मसमर्पण कराया गया।
बाईट 0 शलभ सिन्हा, एसपी, कवर्धा

नोट इसमें एसपी को बोलते हुए सुनाना है कि हमने इन्हें गिरफ्तार किया था, पकड़ा था, फिर आत्मसमर्पण कराने तक का सुनाना है।)

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!