“पीपरछेड़ी की घटना ने शासन की धान खरीदी व्यव्श्था की खोली पोल “

संवाददाता:- फिलिप चाको

बालोद । पीपरछेड़ी की धटना से पूरे प्रदेश के किसान आहत हुए है। दर्जनों किसानों का धायल होना ये प्रदेश सरकार की लचर व्यवस्था का होना है। मामले में जिला भाजपा किसान मोर्चा और युवा मोर्चा ने प्रदेश के मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते पुतलादहंन किया भाजपाईयो ने कहा भूपेश सरकार किसानों धान खरीदी की नाकामी पर अपनी कुप्रबंधन और धान खरीदी केंद्रों में फैली अव्यवस्था के कारण किसानों को यह दिन देखना पड़ रहा। आखिर पीपरछेड़ी में हुए घटना सरकार की नाकामी का नतीजा है।

सोसायटी धान केंद्रों पर अव्यवस्था बालोद जिला की ही नहीं यह समस्या पूरे प्रदेश की है और यह मुख्य रूप से इस घटना को घटित होने के पीछे का मुख्य कारण सरकार के द्वारा एक महीना विलंब से धान खरीदी प्रारंभ करना और ऊपर से बारदाना की उपलब्धता नहीं होना है।

किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष तोमन साहू ने बताया पूर्व सरकार के 1नवंबर से धान खरीदी प्रारंभ किया जाता था और पर्याप्त व्यवस्था होती थी। किसान जब भी उसका फसल आता बिना किसी अफरा-तफरी और हड़बड़ी के स्वतंत्र रूप से अपने ऊपज को बेच सकता था। तीन साल में भूपेश सरकार सभी क्षेत्रों में विफल है। पीपरछेड़ी ही नही मुख्यमंत्री का पुतलादहंन और धेराव जिलाभर के सभी सोसायटी केंद्रों में किया जाएगा। किसान नेता व किसान मोर्चा के प्रदेशमंत्री पवन साहू ने कहा करोना काल से पूरा विश्व ग्रसित है और ऐसी स्थिति में भीड़ इकट्ठा नहीं करना है फिर भी राज्य शासन के द्वारा विलंब से धान खरीदी किए जाने से प्रत्येक सोसाइटी में अफरा-तफरी का माहौल एवं किसानों के बीच धान बेचे जाने की हड़बड़ी है ऊपर से प्रदेश सरकार बारदाना खरीदी की के ऊपर डालते हुए बारदाना की व्यवस्था ना करके किसानों के लिए बहुत बड़ी समस्या पैदा कर दी है।

भाजपा जिलाध्यक्ष कृष्णकांत पंवार ने घटना को प्रशासनिक असंवेदनशील बताया यह लचर व्यवस्था का परिणाम है जिसके चलते यह बड़ी घटना हुई है। प्रबंधक ऊपर कार्यवाही करते जिला प्रशासन बचने का प्रयास कर रही है। भाजयुमो जिलाध्यक्ष आदित्य सिंह पीपरे ने कहा किसानों के साथ हुई घटना प्रदेश के किसानों के लिए चिंतनीय है। प्रदेश सरकार की विफलता के कारण पीपरछेड़ी जैसी घटना हुआ है भाजपा घायल किसानो को 10 लाख मुआवज़े की मांग करता है।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!