रायपुर में धरना दे रहे हेल्थवर्कर को सांप ने काटा:50 दिनों से रायपुर चल रहा है विरोध प्रदर्शन, भाजपा नेता ने सरकार से पूछा- क्या सांप छोड़कर आंदोलन खत्म करवाने की योजना है

रात के वक्त साथी अस्पताल लेकर गए।

रायपुर में पिछले 50 दिनों से रोजगार की मांग के साथ धरने पर बैठे कोविड-19 कर्मचारियों को नई-नई मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। रविवार की देर रात अचानक धरना स्थल पर ही सो रहे एक युवक को सांप ने काट लिया। इस घटना से हड़बड़ाए साथियों ने युवक को फौरन अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने बताया कि किसी जहरीले सांप ने युवक को काटा है। हालांकि फौरन इलाज के बाद युवक की हालत अभी स्थिर बताई जा रही है।

रात के वक्त साथी अस्पताल लेकर गए।

कोविड-19 कर्मचारियों के इस आंदोलन में शामिल हुमेश जयसवाल ने बताया कि रात लगभग 2:00 बजे के आसपास आंदोलनकारी कोरोना योद्धा धनेश साहू को सांप ने काटा। यह बलौदा बाजार के रहने वाले हैं और पिछले कई दिनों से प्रदर्शन में शामिल होने की वजह से धरना स्थल में ही रात बिता रहे हैं। सभी प्रदर्शनकारी धरना स्थल पर ही खुले आसमान के नीचे सोते हैं गंदगी, बदबू, मच्छर की परेशानी तो झेल ही रहे थे अचानक अब सांप के काटे जाने की वजह से एक नई परेशानी सामने आ गई है।

आंदोलन में बैठे कर्मचारी।

भाजपा नेता का तीखा सवाल
इस मामले में भारतीय जनता पार्टी के नेता गौरीशंकर श्रीवास ने सरकार की ओर इशारा करते हुए एक सवाल दागा है। श्रीवास ने पूछा है कि क्या अब इन कर्मचारियों का आंदोलन सांप छोड़कर खत्म करवाने का इरादा है। पिछले लंबे वक्त से कर्मचारी रोजगार की मांग को लेकर रायपुर के धरना स्थल पर बैठे हैं, मगर अब तक सरकार की तरफ से कोई जिम्मेदार व्यक्ति उनसे मिलने नहीं आया। मैंने अस्पताल जाकर युवक का हालचाल पूछा फिलहाल उसकी स्थिति स्थिर होती नजर आ रही है। सरकार को इनके रोजगार की व्यवस्था जल्द से जल्द करनी चाहिए।

इस वजह से आंदोलन कर रहे कोविड-19 कर्मचारी
कोरोना काल के दौरान पहली और दूसरी लहर में जिन अस्थायी कोविड-19 कर्मचारियों ने अपनी जान की बाजी लगाकर छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए सेवा दी थीं। इन कर्मियों की सेवा समाप्त कर दी गई है। क्रांतिकारी कोरोना योद्धा संघ छत्तीसगढ़ के नेतृत्व में बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थल पर धरना देकर पुनः काम पर लिए जाने की मांग की जा रही है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि प्रदेश में अभी भी स्वास्थ्यकर्मियों की कमी बनी हुई है और वर्तमान में नई भर्ती भी ली जानी है। वो चाहते हैं कि उन्हें इस भर्ती में प्राथमिकता मिले। इस्तेमाल के बाद बेरोजगार किए जाने से सभी कर्मचारी बेहद नाराज हैं।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!