रेत के धंधे पर भिड़े कांग्रेसी विधायक और नेता:नेता ने ड्राइवर से खुज्जी MLA के पति पर FIR कराई; विधायक बोलीं- अवैध धंधा करते हैं नेता CG FIRST NEWS Exclusive report

रेत से भरे इसी ट्रक को लेकर शुरू हुआ है विवाद।

अवैध रेत खनन के धंधे ने कांग्रेस संगठन की एकता में अपराध का घुन लगा दिया है। राजनांदगांव जिले में दो गुट इसके खिलाफ खुलकर सामने आ गए हैं। खुज्जी विधायक छन्नी साहू के पति चंदू साहू पर अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण कानून (SC-ST ACT) के तहत अपराध दर्ज हो गया है।

विधायक का आरोप है कि उन्होंने अवैध खनन का विरोध किया तो उनके पति के खिलाफ FIR की गई है। जिस व्यक्ति, वीर सिंह उइके ने थाने में विधायक पति की शिकायत की वह जिले के OBC कांग्रेस नेता तरुण सिन्हा का ड्राइवर है। ड्राइवर वीर सिंह उइके ने अजाक थाने में दी शिकायत में कहा था, पैरीटोला निवासी चंदू साहू ने उसके साथ मारपीट की। गाली दी और जाति सूचक गालियां देकर हाथ-पैर तोड़ देने की धमकी दी है। गवाही में उसने एक व्यक्ति को खड़ा किया जाे उसी गाड़ी में हमाल है। दोनों के बयान के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

विधायक छन्नी साहू ने दैनिक भास्कर से बातचीत में बताया कि उनके क्षेत्र में नदियों से रेत का अवैध खनन हो रहा है। इसका ग्रामीण और वे विरोध करते रहे हैं। पिछले दिनों उन्होंने DFO से इस पर रोक लगाने को कहा था। DFO ने कहा कि पकड़े जाने पर वे लोग आपका नाम लेते हैं। उन्होंने कहा, वे लोग उनका भी नाम लें तो भी किसी को अवैध रेत न ले जाने दिया जाए।

विधायक का कहना था कि पांच दिन पहले वे गांव लौट रही थीं। गाड़ी उनके पति ही चला रहे थे। छुरिया फारेस्ट डीपो के पास उन्हें रेत भरा हुआ माज्दा दिखा। उन्होंने गाड़ी रोकी और माज्दा वालों को चमका दिया। बाद में माज्दा को छुरिया डीपो में ही खड़ा करा दिया गया। इसमें आदिवासी-गैर आदिवासी जैसी कोई बात ही नहीं थी। बाद में तरुण सिन्हा के कहने पर ड्राइवर ने शिकायत की और FIR कराई गई है।

विधायक छन्नी साहू का कहना था कि शिकायत करने वाले उस ड्राइवर और गवाह बने हमाल को तरुण सिन्हा ने अपने घर में रखा है। यह दबाव बनाने की साजिश है। ऐसी कितनी भी FIR करा लीं जाएं वे रेत माफिया का विरोध करने से पीछे नहीं हटेंगी।

पहले भी भिड़े हैं दोनों नेता
राजनांदगांव में पिछड़ा वर्ग के दोनों कांग्रेस नेता पहले भी भिड़़े हैं। जनवरी 2021 में राजनांदगांव के गोडलवाही में हल्बा-हल्बी समाज के एक कार्यक्रम में फ्लेक्स को लेकर विवाद हुआ था। आयोजन स्थल पर तरुण सिन्हा ने मुख्यमंत्री-प्रभारी मंत्री और अपनी तस्वीरों वाले फ्लेक्स लगवा रखे थे। छन्नी साहू गुट ने वह फ्लेक्स उतरवा दिए। इसके बाद विवाद हो गया।

संगठन ने साधी चुप्पी

बताया जा रहा है कि दोनों पक्षों ने घटना को लेकर अपना-अपना पक्ष पार्टी पदाधिकारियों के सामने रखा है, लेकिन संगठन ने इस घटना पर चुप्पी साध रखी है। प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम इस पर बोलने से बच रहे हैं। बताया जा रहा है कि मामला अब मुख्यमंत्री के पास जाएगा।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!