विद्युत विभाग की लापरवाही और ठेकेदार की मनमानी के चलते जवान ठेकाकर्मी की हुई मौत, विद्युत ठेकाकर्मियों ने चक्काजाम कर जताया विरोध,

कुरूद खिलेश साहू की रिपोर्ट

सरकारी संस्थानो के निजीकरण के चलते बिजली ठेकेदारों की घोर लापरवाही के कारण एक ठेका कर्मचारी करंट की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गई। सरकारी संस्थानों से जो सुविधा विभागीय कर्मचारियों को प्रदान की जाती है वो सुविधा ठेकेदारो द्वारा प्रदान नही की जाती है एक बड़ी लापरवाही के चलते एक विद्युत ठेका कर्मी की जान चली गईं। जिससे गुस्साए विद्युत कर्मचारियों ने पीएम के लिए ले जा रहे शव को रोककर सिविल अस्पताल कुरुद के सामने सड़क पर बैठकर प्रदर्शन और जमकर नारेबाजी की। प्रशासन के लिखित आश्वसन के बाद चक्काजाम समाप्त हुआ।

विवो:- प्राप्त जानकारी के अनुसार चरमुड़िया निवासी गीतेश्वर साहू पिता साहूकार साहू उम्र 26 वर्ष ग्राम मेडरका में विद्युत मरम्मत कार्य से पोल पर चढ़ा था तभी अचानक तार में करंट सप्लाई होने के कारण झुलस गया और मौके पर ही उसकी मृत्यु हो गईं। मृतक के परिवार में 2 बच्ची और माता पिता एक बड़ा भाई हैं। वही परिजनों ने परिवार के लोगो नोकरी देने की मांग कर रहें
बताया गया हैं कि कायदे से इन बिजली ठेका कर्मियों को हैंड गल्पस , रबर कवरेड पेंचीस , सेफ्टी बेल्ट , की सुविधा होना चाहिए लेकिन सभी ठेका विद्युत कर्मियों का कहना है कि ऐसी सभी सुविधाओं से विमुख किया जाता है किसी भी प्रकार की सुविधाएं ठेकेदार द्वारा प्रावधान नही किया जाता है। जिससे इस प्रकार की अनहोनी घटित होती हैं।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!