सोशल मीडिया में छाया एक और सिंगर:’बचपन का प्यार’ के बाद अब दंतेवाड़ा के बच्चों का वीडियो वायरल; कबाड़ को बजाकर रस्सी के माइक से गा रहा ‘बेबी मुझे देदे लव डोज’

बस्तर के आदिवासी बच्चों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। इसका एक बड़ा उदाहरण हाल ही में पॉपुलर हुआ सुकमा का सहदेव है। सहदेव के बचपन के प्यार गाने ने बड़े से बड़े फिल्मी सितारों को थिरकने मजबूर कर दिया। इसी बीच अब दंतेवाड़ा जिले के आदिवासी बच्चों का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब धूम मचा रहा है। इस वीडियो में नजर आ रहे बच्चे कबाड़ के जुगाड़ से म्यूजिक सिस्टम बनाए हुए हैं। इनमें से एक बच्चा मशहूर रैप सिंगर हनी सिंह का बेबी मुझे देदे लव डोज गाना गाते हुए दिखाई दे रहा है और उसकी साथी ताल में ताल मिला रहे हैं।

रोज करते हैं गाने की प्रैक्टिस
वीडियो में दिख रहे ये सभी बच्चे दंतेवाड़ा जिले के कुम्हाररास में रहते हैं। रस्सी को माइक बना कर मशहूर रैप सिंगर हनी सिंह का बेबी मुझे देदे लव डोज गाना गाते हुए वीडियो में जो बच्चा दिख रहा है उसका नाम भोगेन्द्र बघेल है। भोगेन्द्र हनी सिंह का बहुत बड़ा फैन है। स्कूल में पढ़ाई करते समय यह हनी सिंह के गाने को गुनगुनाया करता था। बेबी मुझे देदे लव डोज गाना इसका सबसे पसंदीदा गाना है। माइक सहित म्यूजिक सिस्टम नहीं होने की वजह से कुछ दोस्तों ने कबाड़ से ही प्लास्टिक के डिब्बे और रस्सियों का जुगाड़ किया। फिर भोगेन्द्र उसी बैंड में गाने लगा और उसकी साथी ताल से ताल मिलाने लगे। बच्चे इस तरह रोज प्रैक्टिस किया करते थे।

3 साल पहले बनाया था वीडियो, कटेकल्याण के धीरू नाग ने किया वायरल
सोशल मीडिया में वायरल हो रहे बच्चों की बैंजो पार्टी का वीडियो महज 3 साल पुराना है। कुम्हारारास के स्कूल पारा की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मोहिनी नागेश ने यह वीडियो बनाया था। मोहिनी के पति सुमित नागेश जो शिक्षा विभाग में क्लर्क है, उन्होंने बताया कि 3 साल पहले मेरी पत्नी ने बच्चों के इस वीडियो को शूट किया था। रोजाना स्कूल में छुट्टी के बाद ये बच्चे इसी तरह कबाड़ से जुगाड़ से बनाए म्यूजिक सिस्टम को बजाकर गाना गाते थे। सभी बच्चे हनी सिंह के बड़े फैन हैं। इस वीडियो को सुकमा के सहदेव का वीडियो वायरल होने के बाद कटेकल्याण के धीरू नाग ने वायरल किया था।

बड़ा भाई भी है सिंगर, खुद का बनाता है रैप सॉन्ग
भोगेन्द्र का बड़ा भाई हिमांशु बघेल भी गाने का बड़ा शौकीन है। हिमांशु खुद के रैप सॉन्ग व म्यूजिक बनाता है। इसके लिए हिमांशु ने किसी तरह का कोई प्रशिक्षण नहीं लिया है। म्यूजिक बनाने के लिए हिमांशु के पास भी किसी तरह का कोई आधुनिक म्यूजिक सिस्टम भी नहीं है। साथ ही गाने के बोल को पहले डायरी में लिखता है। फिर उसे गा कर फोन में भी रिकॉर्ड करता है। हिमांशु भी हनी सिंह का बड़ा फैन है। अच्छी बात यह है कि वह क्षेत्रीय बोली हल्बी और गोंडी में रैप करने की कोशिश करता है।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!