11 साल के बच्चे का दोस्त ने ही किया मर्डर:दोनों ने शराब पी, नशे में गाली देने लगा तो पत्थर से कुचला सिर; कुत्तों ने नोच-नोच कर क्षत-विक्षत कर दिया था शव

सूरज ने पुलिस को बताया कि देवेंद्र की हत्या करने के बाद उसने शव को घसीट कर गड्‌ढे में ले जाकर फेंक दिया था।

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में 11 साल के देवेंद्र पाव उर्फ दद्दू की सिर कटी लाश मिलने की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस ने इस मामले में गुरुवार को देवेंद्र के दोस्त दर्राटोला निवासी सूरज (18) को गिरफ्तार किया है। सूरज ने शराब के नशे में पत्थर से सिर कुचल कर बच्चे की हत्या की थी। इसके बाद कुत्तों ने शव को क्षत विक्षत कर दिया। गौरेला थाना पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त पत्थर और मारे गए बच्चे का मोबाइल बरामद कर लिया है।

बुधवार को सारबहरा गेवरा रेल लाइन अंडर ब्रिज बगल में मुरूम खदान के पास देवेंद्र का शव सड़ी-गली हालत में मिला था। पूर्व सरपंच कृपाल सिंह ने पुलिस को बताया कि उसके छोटे भाई ज्ञान सिंह का बेटा देवेंद्र 7-8 दिन से लापता है। कृपाल सिंह और उसकी पत्नी शांति बाई ने शव की शिनाख्त की। जांच में पता चला कि पोल्ट्री फार्म में देवेंद्र काम करता था। उसी के मालिक ने 3-4 दिन पहले घर जाकर बताया था कि देवेंद्र काम पर नहीं आ रहा। उसे आखिरी बार सूरज के साथ देखा गया था।11 साल के बच्चे की सिर काटकर हत्या:धड़ से 20 मीटर दूर मिला सिर, पैर भी काट दिए थे, सड़ी-गली हालत में मिला शव; 10 दिन से लापता था बच्चा

शराब के नशे में दोनों के बीच हुआ था विवाद
पुलिस ने बताया कि 28 जुलाई की शाम करीब 6 बजे सूरज और देवेंद्र शराब पीने के बाद मुरुम खदान की ओर घूम रहे थे। नशा ज्यादा हुआ तो देवेंद्र ने सूरज को गालियां देनी शुरू कर दी और पत्थर उठाकर पीठ पर मार दिया। इससे सूरज भी भड़क गया। उसने भी पत्थर मारा तो देवेंद्र की नाक पर लगा और वह जमीन में गिरकर तड़पने लगा। इसके बाद दूसरा बड़ा पत्थर उठाकर आरोपी ने देवेंद्र के सिर पर पटक दिया।

हत्या के बाद शव को घसीटकर गड्‌ढे में फेंक दिया

सूरज ने पुलिस को बताया कि देवेंद्र की हत्या करने के बाद उसने शव को घसीट कर गड्‌ढे में ले जाकर फेंक दिया था। पुलिस का अंदेशा है कि सात दिन पहले हुई हत्या और फिर शव पड़े होने के कारण जंगली जानवर या कुत्तों ने उसे क्षत विक्षत कर दिया। जानवर बच्चे का कई अंग भी खा गए थे। इसके चलते सिर और धड़ अलग हो गए। पैर भी काट कर अलग कर दिया। हत्या की आशंका के चलते पुलिस ने फॉरेंसिक एक्सपर्ट से भी मामले की जांच कराई।

देवेंद्र के मोबाइल के जरिए आरोपी तक पहुंची पुलिस

इस दौरान गांव में चर्चा थी कि देवेंद्र को सूरज के साथ देखा गया था। दोनों दोस्त हैं और देवेंद्र का मोबाइल भी सूरज के पास था। इस पर पुलिस ने उसकी जानकारी जुटाई तो पता चला कि घटना वाले दिन से वह फरार है। मोबाइल ट्रेसिंग से पुलिस उस तक पहुंची। पूछताछ में उसने देवेंद्र की हत्या करने की बात स्वीकार कर ली। वह अपने घर दर्राटोला से नानी के गांव कसईबहरा भाग गया था। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त तीन पत्थर, देवेंद्र का मोबाइल बरामद किया है।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!