Parliament Session LIVE: 18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से, भर्तृहरि महताब ने ली प्रोटेम स्पीकर की शपथ

LIVE Updates : 18वीं लोकसभा का पहला विशेष सत्र आज से शुरू हो रहा है. आज और कल नवनिर्वाचित सांसद शपथ लेंगे. पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, शिवराज चौहान, मनोहर लाल खट्टर, अन्य केंद्रीय मंत्री समेत 280 सांसद को शपथ दिलाई जाएगी और मंगलवार को 264 नवनिर्वाचित सांसद शपथ लेंगे. ये शपथ सांसदों को राज्यवार दिलाई जाएगी. प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब सांसदों को शपथ दिलाएंगे. वहीं, उन्हें राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने प्रोटेम स्पीकर पद की शपथ दिलाई. कहा जा रहा है कि NEET-NET के मुद्दे पर संसद में हंगामे के आसार हैं.

सूत्रों के हवाले से खबर सामने आई है कि प्रोटेम स्पीकर का विपक्ष सहयोग नहीं करेगा. सहयोग के लिए 3 सांसद चुने गए थे. प्रोटेम स्पीकर के चुनाव से इंडिया गठबंधन ने सांसद नाराज हैं. वे एकसाथ संसद भवन जाएंगे. ऐसा कदम गठबंधन में एकजुटता दिखाने के लिए उठाया जाएगा. इसको लेकर संसदीय कार्यमंत्री किरेन रिजिजू का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि संसद के इतिहास में प्रोटेम स्पीकर कभी मुद्दा नहीं रहा है. हम संविधान, नियम के अनुसार काम करते हैं सभी सदस्यों को मिलकर संसद चलानी है. वहीं, 26 जून को लोकसभा स्पीकर का चुनाव किया जाएगा.

18th Lok Sabha Session LIVE Updates:

  • पीएम मोदी ने कहा कि कल 25 जून को भारत के लोकतंत्र को काला धब्बा लगा था. इमरजेंसी के ये 50 साल इस संकल्प के हैं, भारत में कोई कभी ऐसी हिम्मत नहीं करेगा, जो 50 साल पहले हुआ है वो अब कभी नहीं होगा. संविधान को नकार कर देश को जेल खाना बना दिया गया था. इस संकल्प के साथ हम भारतीय लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा का संकल्प करेंगे. जनसामान्य के सपनों को पूरा करेंगे. देश की जनता ने तीसरा मौका दिया जो बहुत महान और भव्य विजय है. मैं विश्वास दिलाता हूं कि आपने तीसरी बार जो मौका दिया है, हम पहले से तीन गुना ज्यादा काम करेंगे. परिणाम भी तीन गुना देंगे.
  • उन्होंने कहा कि देश की जनता ने तीसरे कार्यकाल के लिए चुनकर नीति, नियत और समर्पण पर मुहर लगाई है. सरकार चलाने के लिए बहुमत मगर देश चलाने के लिए सहमति की जरूरत है. हर किसी की सहमति से देश को आगे लेकर चलना है. सबको साथ लेकर चलना चाहते हैं. 18वीं लोकसभा सभा में युवाओं की अच्छी संख्या है. हमारे यहां 18 अंक का बहुत सात्विक मूल्य है. गीता के भी 18 अध्याय हैं, कर्तव्य का संदेश मिलता है. पुराणों को संख्या भी 18 है. 18 की आयु में हमें मताधिकार मिलता है. 18वें सांसद का गठन शुभ संकेत है.
  • पीएम मोदी ने कहा कि विकसित भारत के लक्ष्य के साथ आज 18वें लोक सभा का प्रारंभ हो रही है. शानदार तरीके से चुनाव का संपन्न होना भारतीयों के गौरव का विषय है. आजादी के बाद दूसरी बार किसी सरकार को लगातार तीसरी बार सेवा के लिए देश की जनता ने अवसर दिए है, जो 60 साल बाद आया है. मैं इसके लिए हृदय से आभार व्यक्त करता हूं.
  • संसद सत्र से पहले पीएम मोदी ने कहा कि संसदीय लोकतंत्र के लिए ये गर्व का दिन है. आजादी के बाद पहली बार संसद का सत्र नए संसद भवन में हो रहा है. मैं सभी निर्वाचित सांसदों का स्वागत करता हूं.

इधर, समाजवादी पार्टी ने दावा किया गया है कि अखिलेश यादव को पार्टी के संसदीय दल का नेता चुन लिया गया है. लखनऊ में जिस दिन बैठक हुई थी उस दिन से कहा गया कि सबने ये फैसला अखिलेश यादव पर छोड़ दिया है.

प्रोटेम स्पीकर पर इस बार विवाद क्या?

7 बार से लगातार सांसद भर्तृहरि महताब को बीजेपी ने प्रोटेम स्पीकर चुना है और उन्हें प्रोटेम स्पीकर की शपथ राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने दिलाई. कांग्रेस ने भर्तृहरि को प्रोटेम स्पीकर बनाने पर आपत्ति जताई है. कांग्रेस ने 8 बार के सांसद के. सुरेश को प्रोटेम स्पीकर बनाने की मांग की थी. कांग्रेस ने कहा कि वरिष्ठता के आधार पर के. सुरेश चुने जाने चाहिए थे. इस पर बीजेपी ने कहा कि भर्तृहरि लगातार 7 बार से सांसद, जबकि के. सुरेश लगातार नहीं रहे हैं.

नए प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब कौन हैं?

भर्तृहरि महताब ओडिशा के कटक से 7 बार के सांसद हैं. वह लोकसभा चुनाव से पहले BJD से BJP में आए. महताब BJD के संस्थापक सदस्यों में से एक रहे हैं. वह ओडिशा के पहले CM हरेकृष्ण महताब के बेटे हैं. 1998 से लगातार 7 बार सांसद चुने गए. इसके अलावा वह लोकसभा में पीठासीन अधिकारी रह चुके हैं. उनका जन्म 8 सितंबर 1957 को हुआ है और 66 साल उम्र है. उन्हें 4 बार संसद रत्न अवॉर्ड से भी नवाजा जा चुका है. साथ ही साथ बेस्ट सांसद का भी अवॉर्ड मिला है.

प्रोटेम स्पीकर का चुनाव कैसे होता है?

प्रोटेम लैटिन शब्द प्रो टैम्पोर से आया है. प्रोटेम मतलब होता है कि कुछ समय के लिए. प्रोटेम स्पीकर अस्थायी स्पीकर होता है. लोकसभा, विधानसभा चुनाव बाद सदन चलाते हैं. सत्ता पक्ष वरिष्ठता के आधार पर चुनाव करता है. प्रोटेम स्पीकर का काम नए चुने सांसदों, विधायकों को शपथ दिलाना होता है. प्रोटेम स्पीकर का काम फ्लोर टेस्ट भी करवाना होता है. संविधान में प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति का जिक्र नहीं है. संसदीय मामलों के मंत्रालय की नियमावली में जिक्र है.

18वीं लोकसभा की 18 बड़ी बातें
  • 10 साल बाद BJP को बहुमत नहीं
  • 10 साल बाद विपक्ष का नेता होगा
  • 17वीं लोकसभा के 216 सांसद फिर जीते
  • 280 सांसद पहली बार चुनाव जीते
  • BJP के शंकर लालवानी को सबसे ज्यादा 11.75 लाख मत
  • शिवसेना के रविंद्र वायकर सबसे कम 48 मतों से जीते
  • SP के पुष्पेंद्र सरोज (25 साल) सबसे कम उम्र के सांसद
  • DMK के टीआर बालू (83 साल) सबसे ज्यादा उम्र के सांसद
  • TDP के चंद्रशेखर पेम्मासानी सबसे अमीर सांसद
  • इंजीनियर रशीद और अमृतपाल सिंह जेल से चुनाव जीते
  • कांग्रेस के के. सुरेश सबसे ज्यादा 8 बार जीतने वाले सांसद
  • BJP के भर्तृहरि महताब सबसे ज्यादा लगातार 7 बार सांसद
  • लोकसभा में सांसदों की औसत उम्र 56 साल
  • लोकसभा में 41 पार्टियों के सांसद जीतकर आए
  • लोकसभा में 74 महिला सांसद
  • राहुल गांधी अकेले सांसद जो 2 सीटों से जीते
  • 170 सांसदों पर आपराधिक केस
  • 504 सांसद करोड़पति, औसत संपत्ति 46 करोड़
CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!