IND vs ENG: अजिंक्य रहाणे ने कमियां निकालने वालों का उड़ाया मजाक, तीसरे टेस्ट से पहले कही दिल की बात

अजिंक्य रहाणे ने लॉर्ड्स टेस्ट की दूसरी पारी में अर्धशतक जमाया. (File Photo: AFP)

इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में अजिंक्य रहाणे ने 146 गेंद में 61 जबकि चेतेश्वर पुजारा ने 206 गेंद में 45 रन की पारी खेली और अपनी साझेदारी के दौरान लगभग 50 ओवर में 100 रन जोड़े.

भारतीय टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में दूसरे टेस्ट में धीमी बल्लेबाजी के लिए अपनी और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की आलोचना को खारिज किया. उन्होंने कहा कि वे इतना क्रिकेट खेल चुके हैं कि उन्हें पता है कि भारतीय टीम के हितों के अनुकूल क्या है. रहाणे ने सोशल मीडिया पर आलोचना पर हंसते हुए कहा कि सिर्फ ‘महत्वपूर्ण लोगों’ के बारे में बात की जाती है. दूसरे टेस्ट में रहाणे ने 146 गेंद में 61 जबकि पुजारा ने 206 गेंद में 45 रन की पारी खेली और अपनी साझेदारी के दौरान लगभग 50 ओवर में 100 रन जोड़े.

रहाणे ने बुधवार से यहां शुरू हो रहे तीसरे टेस्ट से पूर्व कहा, ‘मुझे खुशी है कि लोग मेरे बारे में बात कर रहे हैं. मेरा हमेशा से मानना है कि लोग महत्वपूर्ण लोगों के बारे में बात करते हैं इसलिए मैं इसे लेकर अधिक चिंतित नहीं हूं. यह टीम को योगदान देने से जुड़ा है.’ यह पूछने पर कि क्या आलोचना उन्हें प्रेरित करती है, रहाणे ने कहा, ‘हर चीज मुझे प्रेरित करती है. देश के लिए खेलने से मैं प्रेरित होता हूं. मैं आलोचना को लेकर परेशान नहीं होता.’ पुजारा ने लॉर्ड्स पर खाता खोलने के लिए 35 गेंद ली लेकिन उनकी और रहाणे की धीमी बल्लेबाजी का नुकसान भारत को नहीं उठाना पड़ा और टीम 151 रन से जीत दर्ज करने में सफल रही.

हमें पता है दबाव से कैसे निपटना है’

रहाणे ने जीत के संदर्भ में कहा कि वह जिस तरह खेले उससे संतुष्ट हैं. उन्होंने कहा, ‘मेरा हमेशा से योगदान देने में विश्वास रहा है और यह योगदान संतोषजनक था. आप हमेशा अपने खेल के बारे में सोचते हो लेकिन टीम का प्रदर्शन सर्वोच्च होता है. आप अपनी पारी के बारे में सोचते हो और क्या चीज आपके अनुकूल है लेकिन अंतत: हमारा ध्यान इस पर होता है कि टीम की जरूरत क्या है.’

पारी के दौरान पुजारा के साथ बातचीत के बारे में पूछे जाने पर रहाणे ने कहा कि वह सिर्फ टिके रहने के बारे में बात कर रहे थे. उन्होंने कहा, ‘बातें सिर्फ छोटे लक्ष्यों के बारे में हो रही थी और वहां से पारी को आगे बढ़ाना था. चेतेश्वर, हम हमेशा बात करते हैं कि वह धीमा खेलता है लेकिन वह पारी हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण थी. वह 200 गेंद खेला. हमने एक दूसरे का साथ दिया. चेतेश्वर और मैं काफी समय से साथ खेल रहे हैं, हमें पता है कि दबाव से कैसे निपटना है, निश्चित परिस्थितियों का सामना कैसे करना है. जो चीजें हमारे नियंत्रण में नहीं हैं, हम उसके बारे में बातें नहीं करते.’

ये भी पढ़ें:-

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!