VI ने जून में गंवाए 42.8 लाख मोबाइल यूजर्स, एयरटेल और जियो ने अपने साथ जोड़े इतने सब्सक्राइबर्स

Airtel Jio Vi ltd

वोडाफोन आइडिया को लगातार यूजर बेस में नुकसान हो रहा है और इसका सीधा फायदा रिलायंस जियो और एयरटेल उठा रहे हैं. ऐसे में अब ये टक्कर सिर्फ जियो और एयरटेल के बीच बनकर रह गया है.

चिंता से परेशान वोडाफोन आइडिया के लिए अभी भी मुश्किलें खत्म होने के नाम नहीं ले रही हैं. कंपनी को जून महीने में कई सब्सक्राइबर्स से हाथ धोना पड़ा. लेकिन राइवल कंपनी रियालंस जियो और भारतीय एयरटेल ने यहां 54.6 लाख और 38.1 लाख ग्राहकों को अपने साथ जोड़ा है. टेलिकॉम कंपनियों के बीच काफी टक्कर देखने को मिल रही है. रिपोर्ट का खुलासा ट्राई ने किया है.

वोडाफोन आइडिया ने जून में 42.8 लाख सब्सक्राइबर्स गंवाए हैं जिसकी बदौलत उनका यूजर बेस 27.3 करोड़ पर आकर रुक गया है. कंपनी पर काफी उधार है जिससे उसे और नुकसान हो रहा है. सेक्टर रेगुलेटर ट्राई के जरिए जारी जून महीने के टेलीकॉम सब्सक्रिप्शन डेटा के मुताबिक, रिलायंस जियो ने 54.6 लाख यूजर्स हासिल करते हुए अपनी बढ़त मजबूत की. जून में इसके मोबाइल ग्राहकों की संख्या बढ़कर 43.6 करोड़ हो गई.

मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाले दूरसंचार ऑपरेटर ने वायरलाइन में ग्राहकों की संख्या में वृद्धि का नेतृत्व किया, उस कैटेगरी में 1.87 लाख नए यूजर्स शामिल हुए. भारती एयरटेल ने जून में 38.1 लाख वायरलेस ग्राहक जोड़े, जिससे उसका मोबाइल यूजर बेस बढ़कर 35.2 करोड़ हो गया. कुल मिलाकर, भारत में टेलीफोन ग्राहकों की संख्या जून 2021 के अंत में बढ़कर 120.2 करोड़ हो गई, जो मासिक वृद्धि दर 0.34 प्रतिशत है.

“जून, 2021 के महीने में 440 ऑपरेटरों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, मई-21 के अंत में ब्रॉडबैंड ग्राहकों की संख्या 780.27 मिलियन (लगभग 78 करोड़) से बढ़कर 792.78 मिलियन (लगभग 79.2 करोड़) हो गई. भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के आंकड़ों से पता चलता है कि जून -21 में मासिक वृद्धि दर 1.60 प्रतिशत है. टॉप पांच सर्विस प्रोवाइडर्स ने जून के अंत में कुल ब्रॉडबैंड ग्राहकों का 98.7 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी का गठन किया.

ट्राई ने कहा, “ये सर्विस प्रोवाइडर्स रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड (439.91 मिलियन), भारती एयरटेल (197.10 मिलियन), वोडाफोन आइडिया (121.42 मिलियन), बीएसएनएल (22.69 मिलियन) और एट्रिया कन्वर्जेंस (1.91 मिलियन) थे.”

दूरसंचार कंपनी के लिए एक संकट को टालने के लिए, सरकार को टेल्को में आदित्य बिड़ला समूह की हिस्सेदारी सौंपने की पेशकश के दो महीने के भीतर, अरबपति कुमार मंगलम बिड़ला ने हाल ही में वोडाफोन आइडिया लिमिटेड के अध्यक्ष के रूप में पद छोड़ दिया.

ये भी पढ़ें:

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!