दिल्ली के CM केजरीवाल को बड़ी राहत, शराब नीति मामले में कोर्ट ने दी जमानत

नई दिल्ली : आबकारी घोटाले से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नियमित जमानत दे दी है। विशेष न्यायाधीश न्याय बिंदु ने एक लाख रुपये के बांड पर जमानत दी है। ईडी के विशेष अधिवक्ता जोहेब हुसैन ने जमानत पर बेल बांड स्वीकार करने के लिए दो दिन की अवधि तय करने की मांग की, ताकि ईडी हाई कोर्ट में आदेश के खिलाफ अपील कर सके। मगर अदालत ने केजरीवाल के जमानत आदेश पर 48 घंटे के लिए रोक लगाने की ईडी की अपील को भी खारिज कर दिया।

अदालत ने स्पष्ट किया कि जमानत आदेश पर कोई रोक नहीं हैं। अदालत ने कहा कि केजरीवाल के अधिवक्ता शुक्रवार को संबंधित न्यायाधीश के समक्ष जमानत बांड के लिए आवेदन कर सकते हैं। ऐसे में उम्मीद है कि शुक्रवार को प्रक्रिया पूरी कर मुख्यमंत्री तिहाड़ जेल से रिहा हो सकते हैं। सुनवाई के दौरान, ईडी ने अरविंद केजरीवाल को अपराध की आय और सह-अभियुक्तों से जोड़ने की मांग की थी, जबकि बचाव पक्ष ने दावा किया था कि अभियोजन पक्ष के पास केजरीवाल को फंसाने के लिए कोई सुबूत नहीं है।

केजरीवाल को 21 मार्च को ही क्यों गिरफ्तार किया गया

ईडी की दलीलों का खंडन करते हुए केजरीवाल की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता विक्रम चौधरी ने कहा कि आज की तारीख में केजरीवाल सीबीआई मामले में आरोपित नहीं हैं और इसके विपरीत, रिकार्ड में यह बात है कि सीबीआई ने उन्हें गवाह के तौर पर बुलाया था। सीबीआई को निर्देशित करना ईडी का काम नहीं है। सीबीआइ एक स्वतंत्र एजेंसी है जो खुद इस पर फैसला लेगी। चौधरी ने कहा कि उनके मुवक्किल को पहले क्यों नहीं गिरफ्तार किया गया। 21 मार्च को ही क्यों गिरफ्तारी हुई, आखिर ईडी केजरीवाल से क्या चाहती थी। चौधरी ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि क्या ईडी एक स्वतंत्र एजेंसी है या यह कुछ राजनीतिक आकाओं के हाथों में खेल रही है।

अधिवक्ता विक्रम चौधरी ने कहा कि सह-आरोपी चनप्रीत सिंह ने कहीं भी यह नहीं कहा है कि उसने आम आदमी पार्टी के गोवा चुनावों के लिए पैसे दिए हैं या उसने अपराध से पैसे एकत्र किए हैं। ये कहा गया कि विनोद चौहान, जो सीधे केजरीवाल के संपर्क में थे, उनके फोन से एक टोकन नंबर बरामद किया गया है। एक मौजूदा मुख्यमंत्री के खिलाफ आपके पास क्या सुबूत हैं। ये दो चैट क्या हैं जो ईडी ने निकाली हैं, आखिर ये चैट पैसे के हस्तांतरण को कैसे साबित कर सकती हैं।

केजरीवाल की जमानत के बाद AAP कार्यकर्ताओं ने मनाया जश्न

अरविंद केजरीवाल की जनामत के फैसले के बाद आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता जश्न मना रहे हैं। दिल्ली में पार्टी कार्यालय और सीएम हाउस के बाद समर्थक पहुंच रहे हैं। पार्टी कार्यकर्ता पटाखे फोड़कर जश्न मना रहे हैं। वहीं AAP नेताओं ने अदालत के फैसले का स्वागत किया है। आप सांसद संजय सिंह ने कहा ऐसे समय में अरविंद केजरीवाल का जेल से बाहर आना लोकतंत्र को मजबूती देगा और जनता के लिए आज बहुत खुशी का दिन है…इस खबर को सुनकर हम सब उत्साहित हैं…”

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!