विगत दिनों को कर्मा भवन कोसरंगी में भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ।

खरोरा :- कर्मचारी समिति ग्राम कोसरंगी एवं मधुकलश साहित्य परिषद कोसरंगी खरोरा के तत्वावधान में विगत दिनों को कर्मा भवन कोसरंगी में भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ।
इस कवि सम्मेलन के मुख्य अतिथि- कृष्ण मुरारी वर्मा त्रिभाषी कवि – तिल्दा नेवरा
विशिष्ट अतिथि- डॉ.रामकुमार साहू (मयारू) पलारी
विशिष्ट अतिथि- तिलक राम साहू (अध्यक्ष- जिला रायपुर भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ)
विशिष्ट अतिथि- श्रीराम साहू(अध्यक्ष-ग्रामसभा-कोसरंगी)
अध्यक्षता – रामेश्वरी साहू सरपंच (ग्राम पंचायत कोसरंगी ) एवं समस्त ग्रामवासी कोसरंगी की गरिमामयी उपस्थिति और मधु कलश साहित्य परिषद के अध्यक्ष वरिष्ठ कवि जुगेचन्द्र दास के कुशल संचालन में कवि सम्मेलन की शुभारम्भ वरिष्ठ कवि ‘चन्द्रहास सेन’ ने सरस्वती वंदना के पाठ कर की ,तपश्चात आरंग से पधारे सुप्रसिद्ध कवि जी.आर. टण्डन ने अपनी कविता (मैं महानदी के रेती अव ) का पाठ कर खूब ताली बटोरी और मंच को काव्यमय बना दिया । पलारी से पधारे युवा गजलकार पूरन लाल जयसवाल ने अपने गजल(मिट्टी को धूल को हवाओं को सलाम है) से खूब शमा बांधा खूब तलिया लूटी,
वहीं अशोकदास (कोसरंगी) के युवा गजलकार(फिर उन दिनों जाने का मन करता है ,माँ के हाथों के रोटी खाने का मन करता है )ने खूब ताली और वाहवाही लूटी,तेरह वर्षीय नन्ही कवि कुमारी रेणुका साहू ने अपने कविता(समय अगर पीछे आ जाता)की पाठ कर खूब आशीर्वाद प्राप्त किया ,खरोरा से आये वरिष्ठ गजलकार ताहिर खान ने अपने गजल(प्यार से प्यार का सामान बनाया जाये,जो है मुश्किल उसे आसान बनाया जाये) से खूब शमा बांधा और कवि सम्मेलन को शिखर पर पहुँचा दिया।पलारी से आये प्रसिद्ध कवि डॉ. रामकुमार साहू ने अपने गीतों से खूब प्यार बाटा।तिल्दा से आये वरिष्ठ कवि डॉ. कृष्ण कुमार वर्मा ने अपनी कविता( बबा के मयारू नाती अव ,मै छत्तीसगढ़ के माटी अव)
ने खूब वाह वाही लूटी और तालियाँ बटोरी । तुलसी से आये कवि अशोक जलक्षत्री(बिछ्ड़े यार मिला सको तो अच्छा है )
ने दर्शकों को खूब रिझाया। तिल्दा से पधारे वरिष्ठ कवि कैलाश शर्मा ने अपनी कविता से खूब तालियाँ बटोरी ।मंच का संचालन कर रहे वरिष्ठ कवि जुगेशचंद्र दास ने अपने संचालन से काव्यमयी शाम की रसमाधुर्य में चार चाँद लगाये और श्रोताओं को बांधे रखा ।कोसरंगी के वरिष्ठ कवि सुखी राम साहू ने अपनी छतीसगढ़ी कविता से दर्शकों का खूब मनमोहा,संकल्प साहित्य परिषद के वरिष्ठ त्रिभाषी कवि कृष्णमुरारी वर्मा ने साहित्य क्या है? उसे बहुत ही मार्मिक ढंग से सरल शब्दों में समझाया ।डॉ यशोदा साहू ने अपनी गजल से खूब वाहवाही लूटी, कनकी से आये प्रसिद्ध कवि जीतेन्द्र कुमार निर्मलकर ने दर्शकों का खूब मनोरंजन किया ।
ग्राम चकवे से पधारे प्रसिद्ध गीतकार ईश्वर जोशी ने किसान (तोर पाव म छाला पड़ जाथे मोर गाँव के किसान) गीत के माध्यम से श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया । मधुकलश साहित्य परिषद के युवा कवि हरेन्द्र साहू ने (पत्नी के प्रकार) की कविता पाठ कर दर्शकों को खूब हंँसाया और तलिया बटोरी,कनकी के युवा कवि संतोष कुमार धीवर ने अपनी कविता से दर्शकों का खूब मनोरंजन किया ।
यह कवि सम्मेलन दोपहर 12बजे से देर शाम 6 बजे तक चलता रहा ,ग्राम -कोसरंगी के सरपंच रामेश्वरी साहू ने कवि सम्मेलन से बुहत ही प्रभावित हुई और आगामी वर्ष और भव्य रूप से कविसम्मेलन रखने की घोषणा की और ‘कर्मचारी संघ ग्राम कोसरंगी’ के सचिव अशोक साहू(सहायक शिक्षक) ने इस कवि सम्मेलन को सफल बनाने के लिए सभी कवियों को धन्यवाद और अभार व्यक्त कर हर्षोल्लास माहौल में कवि सम्मेलन की समापन की घोषणा की ।

CG FIRST NEWS
Author: CG FIRST NEWS

CG FIRST NEWS

Leave a Comment

READ MORE

विज्ञापन
Voting Poll
3
Default choosing

Did you like our plugin?

READ MORE

error: Content is protected !!